बंद होंगे बिना मान्यता प्राप्त स्कूल, जिलाअधिकारी योगेश कुमार ने दिए ये दिशानिर्देश

अमेठी। यूपी के अमेठी में काफी अरसे से चल रही खबर बिना मन्यता प्राप्त धड़ल्ले से चल रहे स्कूल पर जिलाअधिकारी योगेश कुमार सक्रिय दिखे। मामले को संज्ञान मे लेते हुए जिलाधिकारी ने माध्यमिक वा बेसिक शिक्षा बोर्ड द्वारा संचालित जिले के स्कूल प्रबंधकों के साथ बैठक कर शिक्षा व्यवस्था सुधारने के साथ कहा कि अमेठी जनपद में बिना मान्यता प्राप्त विद्यालय को जल्द ही बंद कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि जो भी स्कूल संचालक बिना मान्यता प्राप्त के चलते पाया गया उसके विरुद्ध कार्यवाही कि जायेगी। जिलाधिकारी ने बैठक के दौरान जिलाविद्यालय निरीक्षक को ये दिशानिर्देश दिए कि जिन स्कूल संचालकों ने सभी मानक पूरे कर लिए हों उन्हें जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा जनपद में विद्यालयों को कक्षा 9 से 10 तथा इण्टरमीडिएट के विषयों के साथ मान्यता दिये जाने के संबंध में विभागीय दिशा-निर्देशों एवं मानकों से समस्त को अवगत कराया गया।

उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्र में विद्यालय संचालन हेतु कम से कम 650 वर्ग मी0 एवं ग्रामीण क्षेत्र में 2000 वर्ग मी0 भूमि की आवश्यकता होती है। साथ ही विद्यालय में क्रीड़ा स्थल 162 वर्ग मी0 अति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि विद्यालय केवल उन्हीं कक्ष-कक्षाओं का संचालन कर सकता है, जिसके लिए उसे माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा मान्यता दी गई हो। बिना मान्यता के अमान्य कक्षाओं का संचालन कतई नहीं कर सकता।

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने कहा कि निशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के प्रभावी हो जाने के पश्चात सक्षम अधिकारी से मान्यता प्राप्त किये बगैर किसी भी स्कूल का संचालन नहीं किया जायेगा। उन्होंने कहा कि अगर कोई विद्यालय ऐसा करता पाया गया तो संबंधित विद्यालय के विरूद्ध विधिक कार्यवाही के साथ-साथ एक लाख तक का जुर्माना भी लगाया जा सकता है। उन्होंने विद्यालयों को मान्यता दिये जाने के संबंध में निर्धारित समय सारणी एवं शर्तों को स्पष्ट करते हुए कहा कि नवीन आवेदन 31 अगस्त 2017 तक ही लिये जायेगें तथा समस्त मान्यतायें 31 मई 2018 तक निर्गत की दी जायेगी बैठक में जिला विद्दा निरीक्षक जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी राजकुमार पंडित के साथ कई लोग मौजूद थे

 

SHARE