बाबरी विध्वंस पर बोलीं उमा भारती- 6 दिसंबर को कोई क्रिकेट मैच नहीं था, जो हुआ खुल्लम खुल्ला हुआ

बाबरी विध्वंस पर बोलीं उमा भारती- 6 दिसंबर को कोई क्रिकेट मैच नहीं था, जो हुआ खुल्लम खुल्ला हुआ

बाबरी मस्जिद विध्वंस की 25वीं वर्षगांठ से पहले केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा, राम मंदिर हमारी अस्था का विषय है. राम मंदिर बनना चाहिए और यह बात कोर्ट ने भी कही है कि वहां पर राम मंदिर है, लेकिन जमीन किसकी है यह फैसला होना है. सभी साक्ष्य कोर्ट में पेश हो रहे हैं. एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते 6 दिसंबर पर मैं कोई स्टेटमेंट नहीं दूंगी.

उमा भारती ने कहा, इस देश में यह एक ऐसा मामला है, जिसको समाधान की तरफ ले ही जाना है. समाधान के दो ही रास्ते हैं या तो आपसी बातचीत से हो, या फिर जो सुप्रीम कोर्ट का फैसला हो उसको मान लिया जाए. क्योंकि यह जो मामला है इस बात का नहीं है कि वहां पर राम पैदा हुए थे कि नहीं, सारी लडाई इस बात की है कि वहां राम जन्म भूमि थी.

6 दिसंबर की घटना के बारे में उमा भारती ने कहा, 6 दिसंबर को कोई क्रिकेट खेल नहीं हुआ था. मेरा कुछ बोलना कोर्ट की अवमानना होगी. मैं 5 दिन पहले से ही अयोध्या में मौजूद थी. 1 दिसंबर को मैं वहां पहुंच गई थी और 7 दिसंबर की सुबह तक मैं वहां मौजूद थी. जो कुछ हुआ था खुल्लम खुल्ला हुआ था. मैं तो इस अभियान के साथ कब से जुड़ी हुई थी. 1985 से इस मुद्दे के साथ जुड़ी हुई थी।

SHARE