तिरंगा फहराएंगे, लेकिन वंदेमातरम नहीं बोलेंगे, चाहे जेल भेजो या मर्डर कराओ

एआईएमआईएम के प्रदेश प्रवक्ता शादाब चौहान ने प्रेस वार्ता का आयोजन कर योगी सरकार द्वारा मदरसों को जारी किए आदेश की आलोचना की। उन्होंने कहा कि योगी सरकार का 15 अगस्त के अवसर पर मदरसों में वंदेमातरम एवं उसकी वीडियोग्राफी का आदेश जारी करने का मतलब ये है कि उन्हें मुसलमानों की देशभक्ति पर शक है।
यह आदेश देश के मुसलमानों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने वाला है, क्योंकि सन 1857 की जंगे आजादी से लेकर देश के आजाद होने तक भारतीय मुसलमानों ने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया था और जय हिन्द, इंकलाब जिन्दाबाद, सारे जहां से अच्छा हिन्दुस्तां हमारा जैसे नारे मुसलमानों ने ही दिए थे। शादाब ने कहा कि किसी मदरसे में वंदेमातरम गाने पर मजबूर किया नहीं जा सकता। हम किसी कीमत पे यह तराना गाने तैयार नहीं हैं।

SHARE