भारतीय टीम ने एक मैच जीतकर तोड़ दिए ये रिकॉर्ड

India's captain Virat Kohli

श्रीलंका को टेस्ट सीरीज में मात देने के बाद भारतीय टीम श्रीलंका की टीम को बेहद करारी मात दी है। बेहतरीन फार्म में चल रहे सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के नाबाद शतक और कप्तान विराट कोहली के साथ उनकी अटूट शतकीय साझेदारी की मदद से भारत ने श्रीलंकाई टीम की धज्जियां उड़ाकर पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में 127 गेंद शेष रहते हुए नौ विकेट से बड़ी जीत दर्ज की। टेस्ट श्रृंखला में दो शतक जड़ने वाले धवन ने हाथ के इस बल्लेबाज ने 90 गेंदों पर 20 चौकों और तीन छक्कों की मदद से नाबाद 132 रन बनाये। कप्तान विराट कोहली (70 गेंदों पर नाबाद 82, दस चौके, एक छक्का) ने उनका अच्छा साथ दिया। इन दोनों ने दूसरे विकेट के लिये रिकार्ड 197 रन की साझेदारी की जिससे भारत ने केवल 28.5 ओवर में 220 रन बनाकर पांच मैचों की श्रृंखला में 1-0 से बढ़त बनायी। विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने लगातार आठवीं बार टेस्ट सीरीज जीती है। इस जीत के साथ विराट कोहली ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को पीछे छोड़ दिया है।

1- रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ खेले गए 22 वनडे में आज तक सिर्फ 285 रन ही बना पाए हैं। 22 मैचों में सिर्फ एक अर्धशकत के साथ उनका औसत सिर्फ  14.25 का है। जिसमें पिछली 10 पारियों में तो उन्होंने सिर्फ 37 रन ही जोड़े हैं।

2- इस मैच में धवन और कोहली ने 197 रन की साझेदारी की जो श्रीलंका के खिलाफ दूसरे विकेट के लिए भारत की सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले ये रिकॉर्ड गौतम गंभीर और धोनी के नाम था उन्होंने 2009 में 188 रन की साझेदारी की थी।

3- भारत ये मैच 127 गेंद शेष रहते जीत गया। ये 200 रनों से ज्यादा के लक्ष्य का पीछे करते हुए सर्वाधिक गेंद शेष रहते चौथी सबसे बड़ी जीत है। साल 2009 में वेस्ट इंडीज कनाडा के खिलाफ 177 गेंद रहते जीती थी ।

4- धवन ने श्रीलंका के खिलाफ पिछले 10 मैचों में 757 रन बना चुके हैं। इन 10 मैचों में उनका औसत 84.11 का है। जो 10 पारियों में किसी भी श्रीलंकन और भारतीय बल्लेबाज से ज्यादा है।

5- इस मैच में शिखर धवन को श्रीलंका के खिलाफ अपना पहला मैच ऑफ द मैच मिला है। अब तक वनडे में वो छह अवॉर्ड जीत चुके हैं।

6-  श्रीलंका में खेले गए किसी भी मैच में दूसरे विकेट के लिए ये सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले ये रिकॉर्ड गौतम गंभीर और धोनी के नाम था उन्होंने 2009 में 188 रन की साझेदारी की थी।

7- अपने घरेलू मैदान पर नौ विकेट की सबसे बड़ी हार है। इससे पहले 1994 में पाकिस्तान के खिलाफ भी वो 9 विकेट से हार का मुंह देख चुके हैं।

8- अब तक विराट कोहली की कप्तानी में भारत में 31 मैच खैला है। जिसमें भारत को 23 में जीत और 7 में हार का सामना करना पड़ा है। उसकी जीतने का औसत 76.66 है।

9- कप्तान के तौर पर कोहली का बतौर बल्लेबाज 80.95 औसत से रन बना रहे हैं। जिसमें से उन्होंने छह शहत और नौ अर्धशतक शामिल हैं।

10- वहीं लक्ष्य का पीछा करते हुए पिछले 1 साल में कोहली का औसत 726 का रहा है। उन्होंने इस एक साल में 85 नॉट आऊट, 154 नॉट आऊट, 122, 76  नॉट आऊट, 96 नॉट आऊट, 111नॉट आऊट और 82 नॉट आऊट।

SHARE