धोनी और भुवनेश्‍वर ने दिलाई टीम इंडिया को जीत

पल्लेकेले: श्रीलंका के खिलाफ दूसरे वनडे मैच में भारत ने श्री लंका की टीम को 3 विकेट से हरा दिया।भारत की गिरती पारी को एमएस धोनी और भुवनेश्वर कुमार ने बखूबी संभाला है। भुवनेश्वर कुमार ने बेहद जिम्मेदारी से बल्लेबाजी करते हुए 80 गेंदों पर 53 रन बनाए, वहीं भारत के पूर्व कप्तान धोनी ने 68 गेंदों पर 45 रनों की सधी हुई पारी खेली। दोनों खिलाड़ियों ने ये रन उस वक्त बनाए, जब लोग टीम इंडिया के जीतने की उम्मीद छोड़ चुके थे। दोनों खिलाड़ियों ने 8वें विकेट के लिए 100 रन की पार्टनरशिप की, जो भारत के लिए रेकॉर्ड है।

पहले बल्‍लेबाजी करते हुए श्रीलंका टीम ने 50 ओवर में आठ विकेट पर 236 रन बनाए लेकिन बारिश के कारण लक्ष्‍य को पुनर्निर्धारित करना पड़ा. भारत को 47 ओवर में जीत के लिए 231 रन बनाने का लक्ष्‍य मिला था. जिसे टीम ने सात विकेट खोकर हासिल कर लिया. महेंद्र सिंह धोनी 45 और भुवनेश्‍वर कुमार 53  रन बनाकर नाबाद रहे.

श्रीलंका के अकीला दनंजय ने बेहद उम्दा गेंदबाजी करते हुए 10 ओवर में 54 रन देकर जबरदस्त 6 विकेट झटके। इनमें 3 विकेट तो उन्होंने एक ही ओवर में लिए, जिसमें कप्तान विराट कोहली का विकेट भी शामिल है। भारत वनडे सीरीज में 2-0 से आगे चल रहा है।

श्रीलंका टीम की ओर से रखे गए लक्ष्‍य के जवाब में रोहित शर्मा और शिखर धवन की जोड़ी ने तेज शुरुआत करते हुए पहले पांच ओवर में ही स्‍कोर 36 रन तक पहुंचा दिया.  पारी के नौवें ओवर में रोहित ने तेज गेंदबाज दुशमांथा चमीरा की लगातार दो गेंदों पर छक्‍के जमाए. जल्‍द ही रोहित ने अपने करियर का 32 वां अर्धशतक पूरा किया. अर्धशतक पूरा करने के बाद रोहित ज्‍यादा देर नहीं टिक पाए. उन्‍हें 54 रन (45 गेंद, पांच चौके, तीन छक्‍के)के स्‍कोर पर धनंजय ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया.

इसके बाद टीम इंडिया के विकेट गिरने का जो सिलसिला शुरू हुआ वह लगातार 6 विकेट तक चला। रोहित के बाद शिखर भी श्रीवर्दना की गेंद पर मैथ्यू को कैच दे बैठे। दनंजय का 17वां ओवर भारत के इस टूर्नमेंट का सबसे महंगा ओवर भी हो सकता है। इस ओवर में भारत के खिलाफ पहली बार गेंदबाजी कर रहे दनंजय ने एक ही ओवर में तीन धुरंधर बल्लेबाजों को बोल्ड किया। इस ओवर में केदार जाधव 1 रन बनाकर, विराट कोहली 4 रन बनाकर और केएल राहुल भी 4 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद एमएस धोनी और हार्दिक पंड्या खेलने आए, लेकिन हार्दिक जरा भी नहीं टिक सके और 0 रन पर दनंजय की गेंद पर स्टंप आउट हो गए। हार्दिक को आउट हुए ज्यादा समय भी नहीं बीता था कि अक्षर पटेल भी दनंजय की गेंद पर 6 रन बनाकर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए।

भारतीय टीम के इस मुश्किल भरे समय में उम्‍मीदें एक बार फिर धोनी पर टिकी हुई थीं जिन्‍होंने भुवनेश्‍वर कुमार के साथ साथ मिलकर स्‍कोर को बढ़ाना जारी रखा. टीम के खाते में जुड़ते हर रन के साथ भारतीय फैंस का उत्‍साह बढ़ता जा रहा था. स्‍कोर के 200 रन तक पहुंचते-पहुंचते श्रीलंका की चिंता बढ़ने लगी थी.भुवनेश्‍वर कुमार ने लंबे समय के बाद बल्‍लेबाजी में अपनी क्षमता को प्रदर्शित किया और धोनी के साथ सधी हुई पारी खेलते हुए भारतीय टीम को जीत दिलायी.

SHARE