अखिलेश ने भाजपा पार्टी पर कसा तंज , नफरत फैलाओ, झगड़ा लगाओ, दूसरों को अपमानित करो सिर्फ

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज भगवा पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा से कोई उम्मीद नहीं की जा सकती क्योंकि उसका काम सिर्फ नफरत फैलाना है। वह सिर्फ लोगों का ध्यान बंटाने के लिए कभी झाडू उठा लेते हैं तो कभी मास्क पहन लेते हैं।

सपा प्रमुख अखिलेश ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘भाजपा से अब कोई उम्मीद नहीं कर सकते। उसका पहला काम यही है कि नफरत फैलाओ, झगड़ा लगाओ, दूसरों को अपमानित करो।‘ उन्होंने कहा,‘… भाजपा दूसरों पर आरोप लगाती है लेकिन अब पूरे उत्तर प्रदेश में भाजपा का राज है। बड़े शहरों में सबसे ज्यादा मेयर भाजपा के हैं लेकिन पिछले दस पंद्रह साल में कूड़ा नहीं हटा।‘

उन्होंने कहा कि लोगों का ध्यान बंटाने के लिए कभी नया झाडू आ जाता है तो कभी दस्ताने और मास्क आ जाते हैं। अखिलेश ने कहा, ‘कभी झाडू लगाना और कभी जेब से ओपियम (अफीम) की पुडिय़ा निकाल देना। इसके अलावा मैं नहीं समझता कि भाजपा की कोई दिशा है। ‘प्रदेश की योगी सरकार की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि आलू किसानों को कोई पूछने वाला नहीं है। गन्ना किसानों के बकाये का पूरा भुगतान नहीं हो पाया है।

ऐसे में इस सरकार से क्या उम्मीद की जाए। अखिलेश ने कहा कि सपा सरकार ने 23 महीने में एक्सप्रेसवे बनाकर तैयार कर दिया था। अब मौजूदा सरकार की जिम्मेदारी है कि वह पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का निर्माण शीघ्रता से कराये। उन्होंने कहा, ‘यह सरकार की जिम्मेदारी है। केन्द्र से पैसा मिल जाएगा। नीति आयोग भी सहयोग कर रहा है …. वो (भाजपा) कह रहे थे कि हम बनारस को जोड़ देंगे। अयोध्या को जोडऩा चाहते थे लेकिन कम से कम शुरूआत तो करें।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि एक्सप्रेसवे बनेगा तो प्रदेश को लाभ होगा। मंडी बनेगी तो किसानों को सही दाम मिलेगा। अमूल और पराग जैसी दूध की डेयरियां खुलेंगी तो ग्रामीण अर्थव्यवस्था अच्छी होगी। लैपटॉप बंटेंगे तो डिजिटल भारत की दिशा में हम आगे बढेंगे।

बसपा के साथ गठबंधन के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि हम सभी प्रयास कर रहे हैं कि गठबंधन हो और कोई रास्ता निकले। ‘हमारा रिश्ता किसी से खराब नहीं है। हम रिश्ता ठीक करने में सबसे आगे रहते हैं। ‘कानून व्यवस्था के प्रश्न पर अखिलेश ने कहा कि पूरे प्रदेश की जनता जानती है कि कानून व्यवस्था के मामले में भाजपा सरकार असफल हो चुकी है।

उन्होंने कहा, ‘यह सरकार की जिम्मेदारी है। केन्द्र से पैसा मिल जाएगा. नीति आयोग भी सहयोग कर रहा है। भाजपा कह रही थी कि हम बनारस को जोड़ देंगे। अयोध्या को जोड़ना चाहते थे लेकिन कम से कम शुरूआत तो करें। सपा प्रमुख ने कहा कि एक्सप्रेसवे बनेगा तो प्रदेश को लाभ होगा। मंडी बनेगी तो किसानों को सही दाम मिलेगा. अमूल और पराग जैसी दूध की डेयरियां खुलेंगी तो ग्रामीण अर्थव्यवस्था अच्छी होगी। लैपटॉप बंटेंगे तो डिजिटल भारत की दिशा में हम आगे बढ़ेंगे।

SHARE