रयान मर्डर केस : CBI का दावा- परीक्षा स्थगित करवाने के लिए छात्र ने की थी प्रद्युम्न की हत्या

गुड़गांव के प्रद्युमन हत्या मामले में नया मोड़ आ गया है। बुधवार को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने इस पर से पर्दा उठाया। सुबह प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि प्रद्युमन की हत्या 11वीं के छात्र ने की थी। आरोपी छात्र चाकू लेकर आया था। हत्या की वजह शारीरिक शोषण नहीं पाई गई है। बल्कि आरोपी ने परीक्षा और पैरेंट्स टीचर्स मीटिंग (पीटीएम) टालने के लिए उसे मौत के घाट उतारा था। सीबीआई ने इस मामले में कैमरे पर बयान देने से साफ इन्कार कर दिया है। दोपहर दो बजे आरोपी की पेशी होगी। आठ सितंबर की सुबह रेयान स्कूल में दूसरी कक्षा में पढ़ने वाले प्रद्युमन की हत्या हो गई थी, जिसका शव वहां के बाथरूम से बरामद किया गया था। आरोपी से बर्बरता से मासूम का गला रेतकर घटना को अंजाम दिया था। सूचना पर पुलिस ने इस बाबत स्कूल के बस कंडक्टर अशोक को पकड़ा था, जिसे पहले हत्यारा बताया गया था।

सीबीआई ने सीसीटीवी कैमरा फुटेज के आधार पर एक छात्र को गिरफ्तार किया है। घटना के दौरान वह क्लिप में बाथरूम से बाहर आते नजर आ रहा है। वहीं, सीबीआई का कहना है कि मामले में गिरफ्तार किए गए कंडक्टर की इस हत्या में कोई भूमिका नहीं है। मंगलवार को एक छात्र के पिता ने शिकायत की कि उसके बेटे को सीबीआई ने गिरफ्तार किया था। न्यूज एजेंसी एएनआई से उसके पिता ने कहा, “बीती रात मेरा बेटा गिरफ्तार किया गया। उसने कोई जुर्म नहीं किया है, उसने माली और शिक्षकों को सूचना दी थी।”

हरियाणा सरकार ने इस मामले को ज्वलंत होता देख सीबीआई जांच कराने की मांग की थी, जो 22 सितंबर को शुरू की गई। इसी बीच सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट से रायन ग्रुप के तीन ट्रस्टियों की याचिका पर इस मामले में 10 दिनों के भीतर फैसला लेने के लिए कहा है।

इन सबके बीच सीबीआई ने इस मामले में गिरफ्तार हुए कंडक्टर को भी क्लीन चिट देने से मना किया है। अभी मामले की जांच चल ही रही है। इसके पहले बताया जा रहा था कि गिरफ्तार कंडक्टर ने ही प्रद्युम्न के साथ रेप करने की कोशिश की थी और उसके विरोध करने पर गला रेतकर हत्या कर दी। सीबीआई ने इस मामले में सेक्सुएल असॉल्ट की किसी के कहानी से इनकार किया है। प्रद्युम्न हत्याकांड की कहानी अब बिल्कुल बदल गई है। सीबीआई ने आरोपी नाबालिग बच्चे को रिमांड पर लेने की मांग करने वाली है। गिरफ्तार किए गए छात्र के पिता ने कहा है कि उनके बेटे को फंसाया जा रहा है। उनका बेटा हत्या नहीं कर सकता है।

सीबीआई ने आरोपी छात्र को ग‌िरफ्तार कर ल‌िया है। सीबीआई के प्रवक्ता अभ‌िषेक दलाल का कहना है क‌ि आरोपी छात्र ने प्रद्युम्न की स‌िर्फ इसल‌िए हत्या कर दी ताक‌ि स्कूल में पीटीएम और परीक्षा ना हो। बता दें क‌ि इस घटना में सबसे पहले स्कूल के बस कंडक्टर को आरोपी बनाया गया था। अभिषेक दयाल ने जानकारी दी कि इस बच्चे को सभी सांइट‌िफिक सबूतों का अध्ययन करने के बाद गिरफ्तार किया गया है। आरोपी को आईपीसी की धारा 302(हत्या) और 25 आर्म्स एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया है।
उन्होंने बताया क‌ि सीबीआई इस छात्र से 4-5 बार पूछताछ कर चुकी है। सीबीआई छात्र को जुवेनाइल कोर्ट में पेश कर पूछताछ के ल‌िए उसकी र‌िमांड मांगेगी। बताया जा रहा है क‌ि आरोपी छात्र की मानस‌िक हालत ठीक नहीं है और उसका इलाज भी लगभग एक साल से चल रहा है।
SHARE