यूपी के गाजीपुर में आरएसएस कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में एक हिन्दी अखबार के स्थानीय पत्रकार और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के ब्लॉक प्रमुख राजेश मिश्रा की शनिवार सुबह गोली मारकर हत्या कर दी। राजेश अपनी दुकान पर बैठे थे, तभी बाइक से आए दो बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी। बदमाशों ने राजेश के भाई अमितेश को भी गोली मारकर घायल कर दिया। अमितेश को डॉक्टरों ने इलाज के लिए वाराणसी रेफर कर दिया है। वारदात की सूचना मिलने पर पुलिस ने इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है।

यूपी के गाजीपुर में आरएसएस कार्यकर्ता और स्थानीय पत्रकार राजेश मिश्रा की उनकी दुकान में घुसकर शनिवार सुबह बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। इस घटना में उनका भाई गंभीर रूप से घायल हो गया। वारदात की सूचना मिलने पर पुलिस ने इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है।

गाजीपुर में बाइक सवार बदमाशों ने राजेश मिश्रा के साथ ही उनके भाई अमितेश को भी गोली मारी थी। इस घटना में राजेश मिश्रा की मौत हो गई जबकि भाई अमितेश को गंभीर हालत में वाराणसी के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आरएसएस कार्यकर्ता राजेश मिश्रा की मौत की खबर से उपस्थित ग्रामीण गुस्से में हैं। गुस्साए लोगों ने मिश्रबाजार के बीच दुकानें बंद करवा दी। जबरन दुकानें बंद किए जाने की घटना पर दुकानदारों ने विरोध किया तो ग्रामीणों ने तोड़फोड़ करना शुरू कर दिया। तोड़फोड़ की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे और उन्हें शांत कराया। दोनों भाईयों को गोली क्यों मारी गई अभी तक इस बात का खुलासा नहीं हुआ है।

चार दिन पहले पंजाब के लुधियाना में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता को गोली मार दी गई थी। इस घटना को बाइक सवार बदमाशों ने अंजाम दिया था। पंजाब के रवींद्र गोसाईं जिनकी उम्र 60 वर्ष थी वह शाखा से अपने घर जा रहे थे तब उन पर फायरिंग हुई थी। इस मामले की जांच एनआईए कर रही है।

SHARE