राजपूत नेता अम्मू बोले- लाल चौक पर मिलें फारूक अब्दुल्ला, उन्हें थप्पड़ मारना मेरा सपना

राजपूत नेता अम्मू बोले- लाल चौक पर मिलें फारूक अब्दुल्ला, उन्हें थप्पड़ मारना मेरा सपना
‘मैं लाल चौक पर खड़े होकर फारूक अब्दुल्ला को थप्पड़ मारना चाहता हूं और इसके लिए मैं चाहता हूं कि वे मुझे वहां आकर मिलें।’ ये कहना है, संजय लीला भंसाली की मूवी ‘पद्मावती’ को लेकर विवाद के चलते पद से इस्तीफा देने वाले सूरज पाल अम्मू का।
अम्मू हरियाणा भाजपा मीडिया कॉर्डिनेटर थे और ‘पद्मावती’ की रिलीज का विरोध कर रहे हैं। सूरज पाल ने प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला को चिट्ठी लिखकर अपना इस्तीफा दिया। उन्होंने चिट्ठी में लिखा कि सीएम साहब द्वारा किये गये व्यवहार से मेरा मन व्यथित है। इसलिए मैं इस्तीफा दे रहा हूं, लेकिन पार्टी में साधारण कार्यकर्ता के रूप मे कार्य करता रहूंगा।
गौरतलब है कि संजय लीला भंसाली की मूवी ‘पद्मावती’ के मुद्दे पर सूरज पाल अम्मू बेबाकी से बोले थे और इस बार उन्होंने सीएम खट्टर के बारे में बोला। करणी सेना के नेता ‘पद्मावती’ की रिलीज को लेकर हरियाणा सीएम खट्टर से मुलाकात करना चाहते थे, लेकिन मुख्यमंत्री ने उनसे मुलाकात नहीं की।

इस पर हरियाणा बीजेपी के मीडिया कॉर्डिनेटर सूरजपाल अम्मू ने भी हरियाणा सीएम पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सीएम साहब ने उन लोगों से मुलाकात क्यों नहीं की, जो राजस्थान से उनसे मिलने आए थे। अगर आप हमें पार्टी से निकालना चाहते हैं, तो निकाल दें पर हमारा अपमान न करें।

करणी सेना के नेता सुखदेव सिंह घोघावाड़ी ने कहा कि हरियाणा सीएम ने हमे मिलने के लिए बुलाया था, लेकिन उन्होंने मुलाकात नहीं की। यह राजपूत समाज का अपमान है। सीएम खट्टर घमंडी हो गए हैं। हम ‘पद्मावती’ को किसी भी हाल में रिलीज नही होने देंगे। फिल्म की रिलीज के विरोध में हम हरियाणा भर में रैलियां करेंगे।

SHARE