गृहमंत्री राजनाथ से मिलीं महबूबा मुफ्ती, बोलीं- कश्मीर में तनाव के पीछे चीन का भी हाथ

जम्मू और कश्मीर के अनंतनाग में अमरानाथ यात्रियों पर हुए हमले के बाद मोदी सरकार और महबूबा सरकार गंभीर हो गई है। राज्य की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती  शनिवार को दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलने के लिए पहुंच गई हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक दोनों मिलकर घाटी में लगातार बढ़ रही हिंसक घटनाओं पर चर्चा की।

राजनाथ से मुलाकात के बाद सीएम मुफ्ती ने कहा कि कश्मीर में तनाव के पीछे चीन का भी हाथ है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में आतंकी बाहर से आ रहे हैं। इस बीच गहमंत्री राजनाथ सिंह की ओर से मिली मदद के लिए मुफ्ती ने उनका शुक्रिया भी किया। उन्होंने कहा हमें खुशी है कि राजनीतिक पार्टियां एक हो गयी हैं, कश्मीर की समस्या का खुलकर एक साथ विरोध कर रहे हैं। जब जीएसटी हमने पास किया तब प्रेसीडेंट ने पुष्ट किया कि धारा 370 हमारे जज्बात के साथ जुड़ी है।

गौरतलब है कि सोमवार शाम को अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले में 7 लोग मारे गए और 19 यात्री घायल हुए। मरने वालों में पांच महिलाएं भी शामिल हैं। अनंतनाग में सोमवार को हुए दो आतंकी हमलों के बाद बुधवार को अमरनाथ यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों का एक और बड़ा जत्था कश्मीर से बाबा बर्फानी अमरनाथ के लिए रवाना हुआ है।

यह अब तक का अमरनाथ यात्रा पर जाने यात्रियों का सबसे बड़ा बैच है। सोमवार को हुए दो आतंकी हमलों के बाद बुधवार को अमरनाथ यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों का एक और बड़ा जत्था कश्मीर से बाबा बर्फानी अमरनाथ के लिए रवाना हुआ है। यह अब तक का अमरनाथ यात्रा पर जाने यात्रियों का सबसे बड़ा बैच है।

इन्हें अनंतनाग आतंकवादी हमले के बाद पहलगाम और बालटाल में कड़ी सुरक्षा के बीच रवाना किया गया है। अमरनाथ यात्रियों की सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए सुरक्षाबलों ने रास्ते पर कड़ी चौकसी कर रखी है। यात्रा पर जाने वाले यात्रियों का कहना है कि उन्हें बिल्कुल भी किसी बात का डर नहीं है। कैंप में तीर्थयात्रियों के बीच भय और डर का कोई संकेत नहीं है। 12 जुलाई को जम्मू और कश्मीर के बडगाम जिले के पास सुरक्षा बलों द्वारा तीन हिजबुल मुजाहिदीन आतंकवादी मारे गए थे।

SHARE