लालू का बड़ा आरोप- नीतीश पर मर्डर का केस, आरेजडी-जेडीयू और कांग्रेस नया नेता चुनें

आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने नीतीश कुमार पर पलटवार करते हुए कहा कि उनका बीजेपी से मामला पहले से ही सेट है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार का बीजेपी से तलाक हुआ था तब कहा था मिट्टी में मिल जाएंगे लेकिन बीजेपी से हाथ नहीं मिलाएंगे । उस समय कहा था कि भाजपा मुक्त भारत बनाएंगे।
कल शाम उनसे बात हुई थी कहा था कि कोई परेशानी हुई तो उसे मिल बैठकर निपटाएंगे। जो आरोप लगा है कि जो आरोप लगा उसपर स्पष्टीकरण दें। लेकिन हड़बड़ी नहीं है। बिहार के जदयू के प्रवक्ता हैं जो भी कहना होगा पब्लिक डोमेन में देंगे।

लालू ने कहा कि समूचा सेट था ये मामला। खुद कहा हमने इस्तीफा नहीं मांगा। नीतीश को मालूम हो गया है कि उनके खिलाफ 302 के तहत मर्डर एक्ट का मामला दर्ज है। आर्म्स एक्ट का मामला है। लालू ने कहा कि पंडारक थाना कांड 16 11 1991 मामला दर्ज है। लालू ने कहा कि भ्रष्टाचार से बड़ा है अत्याचार।

उन्होंने कहा कि ये जीरो टालरेंस वाले मुख्यमंत्री मेरे छोटे भाई की हकीकत है। नीतीश ने प्रोसीडिंग पर स्टे लगवा दिया। उस जज को प्रताड़ित किया गया। यह केस पटना हाई कोर्ट में जीवित है। जस्टिल त्रिपाठी के कोर्ट में तारीख लगती है।

लालू ने कहा कि ये मिले हुए हैं भाजपा आरएसएस से। क्या सेटिंग है। मोदी तुरंत ट्वीट कर दिए। पत्रकार ने पूछा क्या भाजपा से समर्थन के बारे में पूछा तो ना नहीं बोले। राज्य हित में निर्णय लेंगे। जाने से पहले हमको प्रणाम किया। ये काम मत करो। पांच साल के लिए जनता ने आदेश दिया है। बोले हमसे नहीं चलेगा।

नीतीश से अपील है आपके मन में सांप्रदायिक ताकतों का असर नहीं रहा। तो आप चलाने योग्य नहीं रहे तो अपना कुर्ता साफ करें। सब नया नेता चुनकर नई सरकार बनाएं। लेकिन आपका सौदा हो गया। बीजेपी को हराकर आए थे। राष्ट्रपति चुनाव में भाजपा को वोट दिया। नोटबंदी का समर्थन किया। हमने उसे जस्टीफाई किया।

SHARE