लालू यादव के विवादित बोल – पहले लोग शेर से डरते थे, लेकिन अब गाय से डरते हैं

लालू यादव के विवादित बोल - पहले लोग शेर से डरते थे, लेकिन अब गाय से डरते हैं

राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने रविवार को विवादित बयान देते हुए कहा कि केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले लोग शेर से डरते थे, लेकिन अब गाय से डरते हैं. इसकी वजह देश भर में फैले गोरक्षक हैं. राजद की एक बैठक में लालू प्रसाद ने कहा, “पहले लोग शेर से डरते थे, अब गाय से डरते हैं. ये सब मोदी सरकार की देन है.” उन्होंने कहा कि गाय व मवेशियों के साथ बढ़ते डर को देखकर बिहार के सारण जिले के सोनपुर का मवेशी मेला बिना मवेशियों वाले मेले में बदल गया है. सोनपुर का मेला एशिया का सबसे बड़ा मवेशियों का मेला माना जाता रहा है. उन्होंने कहा कि बीते साढ़े तीन सालों में मोदी सरकार द्वारा 2014 के लोकसभा चुनाव में किए गए वादों को पूरा करने ‘पूरी तरह से विफल रहने से लोग नाराज हैं.’ उन्होंने कहा कि लोग नोटबंदी व वस्तु एवं सेवा कर से भी परेशान हैं.

लालू प्रसाद ने कहा, “मोदी 2019 के तय समय से पहले 2018 में लोकसभा चुनाव करा सकते हैं.” उन्होंने अपने पार्टी के कार्यकर्ताओं को समय से पहले संसदीय चुनावों के लिए तैयार रहने को कहा. उन्होंने कहा कि जब भी लोकसभा चुनाव होंगे, विपक्षी पार्टियां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को हराएंगी. लालू प्रसाद ने कहा कि उनके बेटे व बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के संपर्क में हैं.

पहले लोग शेर से डरते थे लेकिन अब गाय से डरने लगे है।

 

 

उन्होंने कहा, “हार्दिक पटेल व तेजस्वी यादव जैसे युवा नेता देश से सांप्रदायिक ताकतों को उखाड़ फकेंगे.” लालू प्रसाद ने मीडिया से कहा कि वह विपक्ष को लक्षित करने के बजाय भाजपा का पर्दाफाश करे. उन्होंने कहा, “अमेरिका व दूसरे विकसित देशों में मीडिया सत्तारूढ़ पार्टियों व उनके नेताओं का पर्दाफाश कर रही है.” उन्होंने कहा, “भारत में मीडिया विपक्ष के खिलाफ लड़ रहा है. यह बदलना चाहिए.”

 

SHARE