योगी सरकार ने किया लेडी सिंघम श्रेष्ठा ठाकुर का तबादला

बुलंदशहर। बीजेपी के नेताओं को कानून का पाठ पढ़ाने वाली महिला पुलिस अधिकारी का तबादला कर दिया गया है। बता दें कि श्रेष्ठा ठाकुर यहां बुलंदशहर जिले के सियाना सर्कल में सीओ के पद पर तैनात थी।

 

तकरीबन एक सप्ताह पहले सड़क पर उन्होने बीजेपी के नेताओं का चेकिंग के दौरान चालान काट लिया था। इस दौरान जब उनकी बहस भाजपा कार्यकर्ताओं से हुई तो वे धरने पर बैठ गए। इसके बाद महिला पुलिस अधिकारी ने भाजपा कार्यकर्ताओं को जेल भेज दिया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वहीं पार्टी के 11 विधायक और सांसद प्रतिनिधिमंडल ने एक बैठक की। जिसके बाद महिला पुलिस अधिकारी का तबादला करने का फैसला किया गया। स्थानीय नेताओं ने इसे अपनी प्रतिष्ठा से जोड़कर ठाकुर के खिलाफ उच्च आदेश का दबाव बनाया था।

 

शहर के बीजेपी अध्यक्ष मुकेश भारद्वाज ने स्वीकार किया कि ठाकुर का तबादला पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं के गौरव को बरकरार रखने के लिए जरुरी है। उन्होने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पार्टी के अन्य नेताओं के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा के इस्तेमाल करने का आरोप भी लगाया।

SHARE