नागपुर टेस्टःभारत ने श्रीलंका को पारी व 239 रनों से हराया , सीरीज में बनाई 1-0 से बढ़त

टीम इंडिया ने नागपुर टेस्‍ट में धमाकेदार प्रदर्शन करते हुए श्रीलंका को एक पारी और 239 रन के विशाल अंतर से पराजित कर दिया. मैच में श्रीलंका  की टीम, विराट कोहली ब्रिगेड के मुकाबले टिक नहीं सकी और चौथे दिन लंच के कुछ देर बाद ही उसे हार के लिए मजबूर होना पड़ा. पारी के लिहाज से टीम इंडिया की यह सबसे बड़ी जीत है. इससे पहले भारतीय टीम ने करीब 10 वर्ष पहले (मई 2007) में ढाका में बांग्‍लादेश को इसी अंतर से हराया था. दूसरी ओर, श्रीलंका की यह पारी के अंतर की सबसे बड़ी हार रही.

श्रीलंका की पहली पारी के 205 रनों के जवाब में टीम इंडिया ने 610 रन बनाकर पारी घोषित की और 405 रनों की विशाल बढ़त हासिल की, जिसके बाद दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका की टीम 166 रनों पर ढेर हो गई. दोहरा शतक जमाने वाले विराट कोहली मैन ऑफ द मैच रहे. भारत ने सोमवार को पहली पारी की समाप्ति तक श्रीलंका के आठ बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाया था. उसे जीत के लिए केवल दो विकेट लेने थे. उमेश यादव ने एक छोर पर टीम की पारी को संभाले खड़े कप्तान दिनेश चांडीमल (61) को रविचंद्रन अश्विन के हाथों कैच आउट कर मेजबान टीम का नौवां विकेट गिराया.

इसके बाद, अश्विन ने लाहिरु गमागे को बोल्ड कर श्रीलंका की पारी 166 रनों पर समेट दी और इस कारण मेजबान टीम एक पारी और 239 रनों से हार गई. सुरंगा लकमल 31 रनों पर नाबाद रहे. इस पारी में भारत के लिए अश्विन ने सबसे अधिक चार विकेट लिए, वहीं उमेश को तीन और रवींद्र जडेजा तथा इशांत शर्मा को दो-दो सफलता मिली.

भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए नागपुर टेस्ट के चौथे दिन श्रीलंका की पारी को समेट दिया. तीसरे दिन के स्कोर एक विकेट पर 21 रनों से आगे खेलने उतरी श्रीलंका के बल्लेबाजों को चौथे दिन भारतीय गेंदबाजों ने पिच पर पैर जमाने का मौका ही नहीं दिया.

श्रीलंका को ढेर करने में रवींद्र जडेजा, इशांत शर्मा, रविचंद्रन अश्विन और उमेश यादव ने अहम भूमिका निभाई. जडेजा ने 34 के स्कोर पर दिमुथ करुणारत्ने (18) को मुरली विजय के हाथों कैच आउट कर श्रीलंका को दिन का दूसरा झटका दिया. इसके बाद टीम के खाते में 14 रन ही जुड़ पाए थे कि लाहिरु थिरिमाने (23) उमेश यादव की गेंद पर जडेजा के हाथों कैच आउट हो गए.

एंजेलो मैथ्यूज ने कप्तान दिनेश चांडीमल के साथ 20 रन जोड़े, लेकिन वह ज्यादा देर तक पिच पर टिक नहीं पाए और जडेजा की गेंद पर रोहित शर्मा को कैच थमा बैठे. एक छोर पर श्रीलंका की पारी को संभाले चांडीमल को टीम के बाकी खिलाड़ियों का साथ नहीं मिला. मैथ्यूज के आउट होने के बाद कप्तान का साथ देने आए निरोशन डिकवेला (4) को इशांत ने कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच आउट करवाया.

इसके बाद अश्विन ने दासुन शनाका (17) को भी ज्यादा देर तक चांडीमल के साथ पिच पर टिकने नहीं दिया और लोकेश राहुल के हाथों कैच आउट कर टीम का छठा विकेट भी गिराया. शनाका जब आउट हुए तब टीम का स्कोर 102 था. अश्विन ने शनाका के आउट होने के बाद दिलरुवान परेरा और रंगना हेराथ को खाता खोलने का मौका भी नहीं दिया और पवेलियन का रास्ता दिखाया.

SHARE