फर्नीचर फैक्ट्री में भीषण आग, एक के बाद एक हुए सैकड़ों धमाकों से दहला वैशाली औद्योगिक क्षेत्

वैशाली औद्योगिक क्षेत्र के नाइपर संस्था के नजदीक स्थित एक फर्नीचर फैक्ट्री में भीषण आग लग गई। फैक्ट्री का नाम ओम साईं फर्नीचर है। आग इतनी तेज और भीषण थी कि स्थानीय लोगों को शुरुआती प्रयास के बाद फैक्ट्री छोड़कर भागना पड़ा। आग लगने के वक्त कंपनी के अंदर 100 से ज्यादा लोग फैकट्री के अंदर मौजूद थे। जिन्हें हल्ला मचा कर वहां से भगाया गया।

मौके पर पहुंची वैशाली दमकल की गाड़ियों से आग पर काबू पाना संभव नहीं हो पा रहा था। इसके बाद पटना से भी 4 दमकल की गाड़ियां भेजी गईं। घटना में किसी के भी हताहत होने की सूचना नहीं है।

फैक्ट्री एनएच 103 के बगल में स्थित है। शुरुआत में काफी देर तक दमकल की गाड़ियां मौके पर नहीं पहुंच सकीं थी। आग फैलने के बाद औद्योगिक थाना पुलिस मौके पर पहुंची और स्थानीय लोगों के प्रयास से आग बुझाने का प्रयास भी किया लेकिन फैक्ट्री में रखे सिलिंडर फटने शुरू हो गए और लोगों को वहां से भागना पड़ा।
आग इतनी तेजी से लगातार बढ़ रही है कि पास के दो और कंपनियों में भी आग पहुंच गई। पास के राकेश मसाला कंपनी भी आग की चपेट में आ गई है। आग की भयावहता का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि इस पूरी घटना में अरबों रुपये के नुकसान की आशंका है।

पटना से हाजीपुर की तरफ आने वाले यात्रियों का कहना है कि आग की वजह से उठते धुएं का गुबार गंगा पर बने महात्मा गांधी सेतू से भी देखा जा सकता है। खबर लिखे जाने तक आग पर काबू नहीं पाया जा सका था।

आग की तेज लपटों ने देखते ही देखते आसपास की तीन फैक्ट्रियों को अपनी चपेट में ले लिया। तेज लपटें देख फैक्ट्री के मजदूर आग पर काबू पाने का प्रयास करने लगे। लेकिन लपटें इतनी तेज थी, कि वे पीछे हटने को मजबूर हो गये। सूचना पर फायर ब्रिगेड की टीम भी घटनास्थल पर पहुंच गई।

मिली जानकारी के अनुसार इंडस्ट्रियल एरिया में नाइपर के समीप स्थित ओम साईं कुर्सी फैक्ट्री में अचानक आग लग गई। आग इतनी तेजी से फैली कि जब तक फैक्ट्री के मजदूर आग पर काबू पाते आग की तेज लपटों ने नेशनल कुर्सी व राकेश मशाला नामक फैक्ट्री को भी अपनी चपेट में ले लिया।

 

सूचना पर इंडस्ट्रियल थाने की पुलिस व फायर ब्रिगेड की कई गाड़ियां मौके पर पहुंच गई। फायर ब्रिगेड की टीम आग पर काबू पाने का प्रयास कर रही है। इस घटना में करोड़ों के नुकसान की खबर है

SHARE