कटरीना जैसा फिगर चाहती थी हनीप्रीत , जिम ट्रेनर का बड़ा खुलासा

बलात्कारी राम रहीम की राजदार और मुंहबोली बेटी हनीप्रीत को लेकर उसके जिम ट्रेनर ने बड़ा खुलासा किया है।  जिम ट्रेनर ने कहा है कि हनीप्रीत कटरीना के जीरो साइज फिगर पर फिदा थी और उसके जैसा बनना चाहती थी। आलम ये था कि कई बार वो जिम के अंदर कटरीना पर फिल्माए गए गाने ‘कमली-कमली’ पर डांस करने लगती थी।

साध्वियों से बलात्कार के मामले में सजा काट रहे गुरमीत राम रहीम के हनीप्रीत से रिश्ते को लेकर हर रोज बड़े खुलासे हो रहे हैं. अब हनीप्रीत का जिम ट्रेनर और एक साथी साध्वी सामने आई हैं, दोनों ने हनीप्रीत को लेकर कई राज खोले। जिम ट्रेनर ने खुलासा किया है कि हनीप्रीत बेबी डॉल बनना चाहती थी, और कई बार वो जिम में ही कमली-कमली गाने पर डांस करने लगती थी।

हनीप्रीत के जिम ट्रेनर ने आगे बताया कि वो खुद को जीरो साइज फिगर में देखना चाहती थी। उसने ये भी खुलासा किया कि राम रहीम खुद भी कभी-कभार इस जिम में आता और हनीप्रीत को लेकर बातें करता था। जिम ट्रेनर ने बताया कि हनीप्रीत के अलावा डेरे में बने इस जिम के अंदर किसी और को इजाजत नहीं थी। हनीप्रीत जुम्बा-जुम्बा डांस की ट्रेनिंग लेना चाहती थी। जिसके लिए राम रहीम ने विदेशी ट्रेनर को जॉब दी थी। उसने बताया कि विदेशी ट्रेनर आने के बाद मैंने बाबा का जिम छोड़ दिया था। जिम ट्रेनर ने खुलासा किया कि हर दिन हनीप्रीत 2 से 3 घंटे जिम में वक्त बिताती थी। इस दौरान वो कमली-कमली, बेबी डॉल और शकीरा के गानों पर डांस भी करती थी। यही नहीं, हनीप्रीत कटरीना कैफ जैसा फिगर पाना चाहती थी और वो हमेशा पूछती थी कि अब वो किस तरह से दिखती हैं। ट्रेनर ने बताया कि हनीप्रीत अपने लिए डाइट खुद लेकर आती थी, वो उनके द्वारा बताए डाइट को फोलो नहीं करती थी।

दूसरी तरफ डेरे में हनीप्रीत की सहेली रही एक साध्वी ने खुलासा किया कि राम रहीम और हनीप्रीत के बीच गलत रिश्ते थे। साध्वी ने बताया कि डेरे में राम रहीम और हनीप्रीत पति-पत्नी के तरह रहते थे। दोनों एक ही कमरे में रहते थे… और तो और बाहर भी जाने पर दोनों एक ही कमरे में ठहरते थे। यही नहीं, साध्वी ने ये भी खुलासा किया कि हनीप्रीत राम रहीम के इशारे पर काम करती थी। डेरे में मौजूद लड़कियों को राम रहीम तक पहुंचाने का काम हनीप्रीत करती थी। साध्वी ने कहा, ‘बाबा जिस लड़की की ओर इशारे करते थे फिर हनीप्रीत उसे बाबा तक पहुंचाने में जुट जाती थी।

हनीप्रीत राम रहीम के इशारे पर काम करती थी. डेरे में मौजूद लड़कियों को राम रहीम तक पहुंचाने का काम हनीप्रीत करती थी साध्वी ने कहा, ‘बाबा जिस लड़की की ओर इशारे करते थे फिर हनीप्रीत उसे बाबा तक पहुंचाने में जुट जाती थीसाध्वी ने बाबा की ‘गुफा’ का राज खोलते हुए कहा कि डेरे में लड़कियों को गुलाबी रंग अलग तरह का जाम दिया जाता था, जिसे पीने के बाद लड़कियां होश-हवाश खो देती थीं और वो बाबा को सबकुछ मानने लगती थींसाध्वी की मानें तो डेरे में हनीप्रीत राम रहीम का सबसे बड़ा राजदार थीं हनीप्रीत की वजह से बाबा अपने परिवार से दूर हो गए थे राम रहीम को दो बेटियां हैं, लेकिन वो कभी बाबा के साथ नजर नहीं आती थीं चौबीसों घंटे हनीप्रीत राम रहीम के साथ रहती थी, और बाबा ने भी सब कुछ हनीप्रीत के हवाले कर दिया था बाबा का एक-एक फैसला हनीप्रीत लेती थी

 

SHARE