यूपी सड़क परिवहन उम्रदराज़ महिलाओं को कराएगी फ्री सफ़र, सरकार से की इसे पास करने की अपील

यूपी राज्य सड़क परिवहन निगम 60 वर्ष या उससे अधिक की उम्र वाली महिलाओं के लिए मुफ्त सफर का तोहफा लेकर आया है। उत्तर प्रदेश की बुजुर्ग महिलाओं को परिवहन निगम की बसों में मुफ्त यात्रा कराने के लिए परिवहन निगम के निदेशक मंडल की पिछले सप्ताह हुई बैठक में इस आशय का फैसला लिया गया। इस प्रस्ताव को मंजूरी के लिए सरकार के पास भेज दिया है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि 60 साल से ऊपर की आयु की महिलाएं अब परिवहन निगम की बसों में मुफ्त में यात्रा करेंगी। सरकार से अनुमति मिलते ही बुजुर्ग महिलाएं निगम की बसों में मुफ्त में यात्रा कर सकेंगी। सूत्रों के अनुसार प्रदेश में बुजुर्ग महिलाओं को निगम की बसों में मुफ्त बस सफर की सुविधा मुहैया कराने के लिए केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के सचिव राकेश श्रीवास्तव ने 26 जुलाई को मुख्य सचिव राजीव कुमार को पत्र भेजा था।

मुख्य सचिव के आदेश पर परिवहन निगम ने इस आशय का प्रस्ताव तैयार करके पिछले सप्ताह हुई निदेशक मंडल की बैठक में रखा। वर्ष 2011 की गणना के अनुसार उत्तर प्रदेश में 74 लाख महिलाएं 60 साल से ऊपर की आयु की है। निदेशक मंडल ने अपने सुझाव में कहा है कि साधारण बसों में यात्रा के लिए बुजुर्ग महिलाओं को छूट दी जाए। यह छूट एसी बसों में लागू नहीं होगी। बुजुर्ग महिलाओं को फिलहाल परिवहन निगम की करीब 9000 साधारण सेवा की बसों में निशुल्क सफर की सुविधा दी जाएगी।

महिलाओं को मुफ्त सफर के लिए परिचय पत्र बनवाना होगा। इसके लिए सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक के नेतृत्व में डिपो पर शिविर का आयोजन होगा। अभी तक परिवहन निगम स्वतंत्रता सेनानियो, पुरस्कृत अध्यापक, लोकतंत्र रक्षक सेनानी, दिव्यांग और मान्यता प्राप्त पत्रकारों को मुफ्त यात्रा की सुविधाएं प्रदान कर रहा है। आंकडों के अनुसार इस समय परिवहन निगम 8 लाख दिव्यांग, 6 हजार लोकतांत्रिक सेनानी, ढाई हजार पत्रकारों, 9 हजार सम्मानिक अध्यापक तथा 500 स्वतंत्रता सेनानियों को बसों में मुफ्त यात्रा की सुविधा दे रही है।

SHARE