केजरीवाल पर बनी फिल्म को FCAT से मिली हरी झंडी

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के जीवन पर बनी एक डॉक्युमेट्री फिल्म के जीवन पर बनी फिल्म ‘एन इनसिग्नीफिकेंट मैन’ को फिल्म सर्टिफिकेशन अपील ट्रिब्यूनल (एफसीएटी) ने बिना किसी कट के पास कर दिया है।

सेंसर बोर्ड ने ‘यू/ए’ सर्टिफिकेट दिया है। हाल में इस फिल्म को बनाने में खुशबू रंक की सहायता करने वाले विनय शुक्ल ने यह जानकारी मीडिया को दी है। शुक्ल ने बताया, ‘ट्राइब्यूनल द्वारा हमारे पक्ष में फैसला दिए जाने से हम आभारी हैं। यह पूरी तरह हमारे पक्ष में है।

दरअसल, सेंसर बोर्ड ने फिल्म को हरी झंडी देने से पहले निर्माताओं से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित और केजरीवाल से नो-ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट (एनओसी) लाने को कहा था।

ट्राइब्यूनल ने अपने फैसले में कहा कि फिल्म की रिलीज़ के लिए राजनीतिक लोगों से एनओसी मांगना कानूनन गलत है। साथ ही इसमें कहा गया कि फिल्म कांग्रेस और बीजेपी के नेताओं के नाम भी म्यूट करने की कोई जरूरत नहीं है। इस फिल्म को पहले ही बीएफआई लंदन फिल्म फेस्टिवल और बुसान इंटरनैशनल फिल्म फेस्टिवल सहित कई फिल्म फेस्टिवल में प्रदर्शित किया जा चुका है।

SHARE