GST Effect: लम्बाई के हिसाब से महंगी हो जाएगी सिगरेट

नई दिल्ली। सिगरेट पीने वालों को मंगलवार से इसके लिए कुछ ज्यादा पैसे देने पड़ सकते हैं क्योंकि सरकार ने जीएसटी के तहत इस पर क्षतिपूर्ति सेस बढ़ा दिया है। यह सेस सिगरेट की लंबाई के आधार पर लागू होगा। सेस बढ़ने का सीधा असर सिगरेट की कीमतों पर पड़ेगा। नई दरें सोमवार आधी रात से लागू हो गई हैं।

वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में सोमवार को जीएसटी परिषद की हुई 19वीं बैठक में इस आशय का निर्णय लिया गया। परिषद की बैठक समाप्त होने के बाद जेटली ने बताया कि सिगरेट पर जीएसटी की दर 28 फीसदी और एड वोलेरम पांच फीसदी सेस बरकरार रहेगी।  सिर्फ कंपनसेशन सेस में बढ़ोतरी की जा रही है जिससे पांच हजार करोड़ रुपये की कर वसूली बढ़ेगी।

नई दरों के हिसाब से 65 मिमी से छोटी नॉन फिल्टर सिगरेट पर सेस की नई दर पांच प्रतिशत के साथ 2076 रुपए प्रति हजार सिगरेट हो गई जो अब तक पांच प्रतिशत प्लस 1591 रुपये प्रति हजार रुपए थी। इसी तरह नॉन फिल्टर 65 मिमी से अधिक लेकिन 70 मिमी से कम लंबाई वाली सिगरेट पर सेस की दर पांच प्रतिशत प्लस 3668 रुपये प्रति हजार के हिसाब से लागू की गई है।

अब तक इसकी दर पांच प्रतिशत प्लस 2876 रुपये प्रति हजार थी। इसी तरह फिल्टर सिगरेट पर भी सेस की दर में अच्छी खासी वृद्धि की गई है।

SHARE