सीजफायर उल्लंघन: पाक की फायरिंग में बलिया का BSF जवान शहीद , मां-पत्नी को कहा था ‘अपना ख्या‍ल रखना’

जम्मू जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन पाकिस्तानी सैनिकों ने सीजफायर का उल्लंघन किया और सीमा पार से हुई गोलाबारी में सीमा सुरक्षा बल (BSF) का एक जवान शहीद हो गया। कांस्टेबल बिजेंद्र बहादुर अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास अरनिया सेक्टर में अग्रिम चौकी पर बाड़ के पास  तैनात थे। तभी देर रात करीब 12 बजकर 20 मिनट पर पाकिस्तानी सैनिकों ने मोटार्र दागे और गोलीबारी शुरू कर दी।

बीएसएफ के एक अधिकारी ने बताया कि एक गोली जवान के बाईं तरफ, पेट पर लगी और अस्पताल ले जाते हुए उसने दम तोड़ दिया उन्होंने कहा,  बीएसएफ के जवानों ने कड़ी कार्रवाई करते हुए मुहंतोड़ जवाब दिया। अधिकारी ने कहा, आधी रात से सुबह तक दोनों ओर से रुक-रुक कर गोलियां चलती रहीं। कांस्टेबल बहादुर (32 वर्ष) उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के विद्या भवन नारायणपुर गांव के निवासी थे। उनके परिवार में उनकी पत्नी सुष्मिता सिंह हैं।
बीएसएफ के जवान ने शाहदत से चार घंटे पहले यानि गुरुवार रात 9 बजे अपनी पत्नी सुष्मिता से फोन पर बात की थी। इस दौरान बिजेंद ने मां-पिता और दोनों बेटों की हाल चाल पूछा और पत्नी को सबका ख्याल रखने को कहा। पत्नी से बात करने के बाद बिजेंद्र ने मां राजकुमारी से भी बात की थी। बिजेंद्र ने मां को कहा था कि ‘अपना ख्याल रखना’ इतना कहने के बाद मां को प्रणाम किया और फोन रख दिया।

वहीं पति की शहादत की खबर सुनने के बाद पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल है। उसे क्या पता था कि जो फौजी पति अपना तथा मां-बाप और बच्चों का ख्याल रखने की नसीहत दे रहा था वो खुद ही सबको मझधार में छोड़कर चला जाएगा। वहीं देश पर कुर्बान हो गए अपने बेटे की याद में मां रोते रोते बेसुध हो जा रही है। पिता को बेटे की शहादत पर गर्व है। फिर भी इकलौते बेटे को खोने का गम वे छिपा भी नही पा रहे।

बेटे से बात कर मां सुकून की नींद सो गई तो पत्नी भी पति की मीठी यादों में खो गई। क्या पता कि बिजेंद्र से अब उनकी कभी बात नही हो पाएगी। बात करने के ठीक 4 घंटे बाद पाक गोलीबारी में बिजेंद्र शहीद हो गए। शुक्रवार का दिन परिवार पर आफत बनकर आया। 4 बजे पिता अशोक सिंह के फोन की घंटी बजी। उधर से जो खबर आई उसे सुनकर पिता स्तब्ध रह गए। परिवार में कोहराम मच गया।

भारतीय सेना के आंकड़ों के अनुसार, इस साल पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा संघविराम उल्लंन की टनाओं में तेजी से वद्धि हुई है। एक अगस्त तक पाकिस्तान सेना 285 बार संर्षविराम उल्लंन कर चुकी थी, जबकि वर्ष 2016 में पाकिस्तान की ओर से कुल 228 बार  संर्घष विराम उल्लंघन किया गया था।
पाकिस्तान ने 24 घंटे में तीसरी बार सीजफायर का उल्लंघन किया है। इससे पहले गुरुवार को पाकिस्तानी रेंजर्स ने जम्मू के अखनूर क्षेत्र के परगवाल सेक्टर में ब्राह्मण बेला और रायपुर सीमा चौकियों पर छोटे हथियारों से गोलीबारी की। ये गोलाबारी पाकिस्तान ने शाम 3.45 बजे पाकिस्तानी रेंजर्स ने अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगे क्षेत्रों में मोर्टार गोले दागे और बीएसएफ ने उसका जवाब दिया।

वहीं पाकिस्तानी सेना ने पुंछ के मानकोट, सब्जियान और दिग्वार क्षेत्रों में नियंत्रण रेखा स्थित भारतीय चौकियों पर दिन में 4 बजे के बाद फिर से गोलाबारी की थी। अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने हाल के दिनों में कई बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया है। इस वर्ष पाकिस्तान की ओर से संघर्षविराम के उल्लंघन की घटनाओं में काफी इजाफा हुआ है।

SHARE