बुढ़ापे से बचना है तो तनाव से बनायें दूरी..

कई शोधों से साफ हो चुका है कि डिप्रेशन में रहने से आप कई प्रकार के रोगों का शिकार हो सकते हैं। बहुत से लोगों का भी यह मानना है कि डिप्रेशन इंसान को मानसिक और भावनात्मक रूप से कमजोर बना देता है।

हाल ही में हुए एक शोध से साफ हुआ है कि शारीरिक समस्याओं के साथ ही डिप्रेशन में रहने से व्‍यक्ति जल्‍द बुढ़ापे से ग्रस्‍त हो जाता है। नीदरलैंड के वैज्ञानिकों ने एक अध्‍ययन में पाया है कि डिप्रेशन के कारण शारीरिक क्षमताओं पर भी विपरीत असर पड़ता है और यह कोशिकाओं में एजिंग की प्रक्रिया को तेज कर देता है।

अध्‍ययन से यह भी पता चला कि, जो लोग गंभीर किस्म के डिप्रेशन का शिकार होते हैं, वे अन्य लोगों के मुकाबले जल्दी बूढ़े हो जाते हैं। शोधकर्ताओं ने इस अध्‍ययन को पूरा करने के लिए 2407 लोगों पर रिसर्च की। डिप्रेशन में रहने वाले लोगों की नींद भी पूरी नहीं होती।

नींद पूरी न होने का असर आपकी त्‍वचा के साथ ही शरीर पर भी पड़ता है। ऐसे में त्‍वचा पर झुर्रियां और आंखों के नीचे काले घेरे बनना आम है। ऐसा भी बताया गया है कि कम नींद लेने वालों को बुढ़ापा जल्‍दी आता है।

इसलिये अगर आप बुढ़ापे से दूर रहना चाहते है तो जरूरी है कि आप मानसिक तनाव को अपने पास न अाने दे ।

SHARE