रेयान स्कूल मर्डर पर सीएम खट्टर का बयान, ‘कंडक्टर के अलावा भी कोई दोषी है तो बचेगा नहीं’

गुरुग्राम। रेयान इंटरनेशनल स्कूल में मासूम की हत्या पर हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने भी बयान दिया है. उन्होंने मामले में तेज जांच और दोषियों पर सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया. सीएम खट्टर ने कहा कि अगर बस कंडक्टर के अलावा भी कोई दोषी है तो उसे बख्शा नहीं जाएगा. फिलहाल हत्या के मुख्य आरोपी अशोक को तीन दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है. पुलिस ने सात दिनों में चार्जशीट दाखिल करने की बात कही है.।
गुरुग्राम पुलिस की प्रेस कॉन्फ्रेंस।
रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के बच्चे के मर्डर केस में पुलिस ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की. पुलिस कमिश्नर संदीप खिरवार ने कहा कि केस फास्ट ट्रैक कोर्ट में चले, इसके लिए रिक्वेस्ट की जाएगी. 7 दिन में इस मामले की चार्जशीट दाखिल की जाएगी. इससे पहले स्कूल की प्रिंसिपल को सस्पेंड कर दिया गया है.।

शिक्षा मंत्री ने जाहिर की चिंता।
रेयान इंटरनेशनल स्कूल में बच्चे की मौत मामले में हरियाणा के शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा का बयान आया है. उन्होंने कहा, सरकार की इस मामले पर पूरी नजर है. अगर इस केस में स्कूल मैनेजमेंट कुसूरवार साबित होता है तो वह दोषियों को सजा दिलाने के लिए स्कूल की मान्यता रद्द करने से भी नहीं हिचकेंगे.।
Principal was indifferent when she came to hospital, put her in jail. I want to know what happened to my child, I want CBI: Mother of victim pic.twitter.com/RQNk1p89zD।
सीबीएसई ने बनाई जांच समिति।
सीबीएसई ने भी स्कूल से रिपोर्ट मांगी है. इसके अलावा दो सदस्यी जांच समिति का भी गठन कर दिया गया है. कमियां पाई जाने पर स्कूल से एफिलिएशन भी छीना जा सकता है. वहीं, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया. जावड़ेकर ने शनिवार को कहा कि ये मामला स्कूलों और अभिभावकों के लिए चेतावनी की तरह है. ऐसी परिस्थिति दोबारा न हो इसलिए सावधानी बरतनी चाहिए. उन्होंने कहा कि पुलिस गुनहगारों तक पहुंची है. आवश्यक कदम उठाए जाएंगे. जल्द न्याय होगा.।
रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के  छात्र प्रद्युम्न की हत्या के मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए स्कूल प्रिंसिपल को सस्पेंड कर दिया है. वहीं, स्कूल को सुरक्षा देने वाली एजेंसी के खिलाफ भी कार्रवाई हुई है. हत्या के आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे 3 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है. हालांकि बस कंडक्टर के परिवारवालों ने उसे फंसाने का आरोप लगाया है. परिवार सीबीआई जांच की मांग पर अड़ा हुआ है.।

SHARE