गुजरात चुनाव में भाजपा का 2 अंकों में सिमटना उसके पतन की शुरुआत-अखिलेश

गुजरात विधानसभा चुनाव में भाजपा की सरकार बनने के बाद समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गुजरात चुनाव परिणाम पर कहा- “जनता के निर्णय का सम्मान करते हैं। भाजपा पूरे चुनाव में 150 सीट के जीत का दावा कर रही थी जबकि परिणाम इसके उलट रहे।

22 वर्ष सत्ता में रहने के बाद भी प्रधानमंत्री समेत भाजपा के मुख्यमंत्री और मंत्रीगण पूरे चुनाव में डटे रहे। सरकारी मशीनरी का इस्तेमाल करने के साथ-साथ चुनाव को प्रभावित करने के कई हथकंडे अपनाये गये।”अखिलेश यादव ने अपने ट्विटर पर लिखा- “गुजरात में भाजपा का 2 अंकों में सिमट जाना उनके पतन की शुरुआत है। ये गांव, गरीब और ग्रामीण की उपेक्षा का नतीजा है।

ये भाजपा की तथाकथित जीत है। इस चुनाव से भाजपा के जातिवादी और साम्प्रदायिक राजनीति का सच जनता के सामने आ गया हैं। इतना ही नहीं गुजरात चुनाव प्रचार में भाजपा नेताओं ने असंसदीय बयानों और बड़बोलेपन से अपनी राजनैतिक साख को गिरा दिया हैं। सी-प्लेन के माध्यम से चुनाव को प्रभावित करने का प्रयास किया गया है। 2019 में परिवर्तन साफ दिखाई दे रहा है। भाजपा की अब कोई भी चाल जनता को गुमराह करने की काम नहीं आयेगी।”

बता दे कि गुजरात में बीजेपी को 182 में से 99 सीटें मिली। वहीं कांग्रेस के खाते में 80 सीटें हैं। अन्य को 3 सीटें मिलीं। बीजेपी 49.1% जबकि कांग्रेस का वोट शेयर 41.5% रहा।

SHARE