पीएम मोदी के नहले पर अखिलेश यादव ने मारा दहला, खजांची को दिया बहुत बड़ा तोहफा

पीएम मोदी के नहले पर अखिलेश यादव ने मारा दहला, खजांची को दिया बहुत बड़ा तोहफा

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सोमवार को कानपुर पहुंचे। यहां पर उन्होंने बड़ा एलान करते हएु कहा कि प्रधानमंत्री के नोटबंदी के चलते कानपुर जिले में एक बच्चे ने बैंक के अंदर जन्म लिया था। उसकी परिजनों ने बच्चे का नाम खजांची रखा था। हम खजांची बाबू के जन्मदिन पर उसके घर जाएंगे और धूम-धाम के साथ जन्मदिन मनाएंगे। इस मौके पर पूर्व सीएम ने पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले को भारत के इतिहास में सबसे खराब करार देते हुए कहा कि एक गलत फैसले से डेढ़ सौ से ज्यादा लोगों की मौत के साथ अर्थव्यवस्था पर गहरा अघात लगा है।
दो दिसंबर को बनाएंगे जन्मदिन
पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब नोटबंदी की थी जब समाजवादी पार्टी की सरकार सूबे में थी। कानपुर की एक महिला बैंक में पैसे निकालने के लिए खड़ी थी। सुबह से लेकर शाम को गई , लेकिन वो काउंटर तक नहीं पहुंच सकी। महिला ने बैंक के बंहर बच्चे को जन्म दिया था। नोटबंदी से आहत होकर महिला के परिजनों के साथ गांव के लागों ने उसका नाम खजांची रखा था। हमें जब इसकी जानकारी हुई तो हमने महिला को आर्थिक मदद की, पर मन की बात, सोशल मीडिया में एक्टिव पीएम ने पीड़ित महिला के लिए दो शब्द नहीं लिखे। हम दो दिसंबर को उसके जन्मदिन पर खजांची के घर जाएंगे।
सत्ता के नशे में चूर भाजपाई उड़ाते हैं मजाक

 

नोटबंदी: बैंक लाइन में पैदा हुआ था खजांची, अखिलेश सरकार ने की थी मदद, आज उसका है ये हाल

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि जब हमने कानपुर के खजांची को आर्थिक मदद दी तो सत्ता में बैठे भाजपा के लोग हमारा मजाक उड़ा रहे थे। इतना ही नहीं भाजपाई खजांची के परिजनों को भी परेशान करते हैं। लेकिन समाजवादी पार्टी का हर कार्यकर्ता खजांची के साथ खड़ा है और उसका पहला जन्मदिन पूरे जोश-खरोस के साथ मनाया जाएगा। अखिलेश ने कहा कि भाजपा सरकार द्वारा नोटबंदी और जीएसटी का निर्णय लिया गया जिससे भारत की अर्थ व्यवस्था को खासा नुकसान भी हुआ है। सभी व्यापारी वर्ग इससे परेशान है कोई भी व्यापारी जीएसटी को नहीं समझ पा रहा है। सरकार जनता को बताये की नोटबंदी से क्या फायदा हुआ है।
प्रधानमंत्री जी रूपया काला नहीं होता
अखिलेश यादव ने चुटकी लेते हुए कहा कि प्रधानमंत्री जी लेनदेन काला और सफ़ेद होता है रूपये नहीं। इस नोट बंदी को लाइन में लगी हुई खजान्ची की मां क्या समझेगी जिसने बैंक की लाइन में लगे होकर वहीं खजांची को जन्म दिया। हम समजवादी इस बार दो दिसम्बर को जन्म लेने वाले खजांची का जन्म दिन धूम धाम से मनायेंगे। इस मौके पर उस समय एक प्रश्न पर अखिलेश मीडियाकर्मी से उलझ गए और उन्हें हद में रहने की बात कह दी। जिसके कारण कुछ देर के लिए महौल तनावपूर्ण हो गया। अखिलेश ने एक नहीं पूरे पांच पर मीडियाकर्मी से मिलेट में रहकर बात करने को कहा।

SHARE