एयर मार्शल अर्जन सिंह को राजकीय सम्मान के साथ दी अंतिम विदाई ,

New Delhi: File photo of Marshal of the Indian Air Force Arjan Singh, famous for his role in the the 1965 India- Pakistan war, has been hospitalised and his condition is stated to be critical.PTI Photo(PTI9_16_2017_000103B)

पाकिस्तान को 1965 की जंग में एक घंटे के अंदर घुटनों पर ला देने वाले भारतीय वायु सेना के जांबाज मार्शल अर्जन सिंह को सोमवार को आखिरी विदाई दी गई। दिल्ली के बरार स्क्वेयर में अर्जन सिंह का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। मार्शल को 17 तोपों और फ्लाई पास्ट से सलामी दी गई। भारतीय वायुसेना के दिवगंत मार्शल अर्जन सिंह को आज यानि 18 सितंबर को दिल्ली स्थित बरार स्क्वायर में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। मार्शल अर्जन सिंह का पार्थिव शरीर करीब 8.15 बरार स्क्ववायर में लाया गया, जहां पर मार्शल अर्जन सिंह को सभी रीति-रिवाजों के साथ अंतिम विदाई दी गई। मार्शल अर्जन सिंह के सम्मान में सभी सरकारी दफ्तरों में फहर रहे तिरंगें झंडों को आधा नीचे उतार दिया गया है। मार्शल अर्जन सिंह को सम्मान देने के लिए 17 बंदूकों की सलामी दी गई और साथ ही अंतिम विदाई प्रक्रिया से पहले एयरफोर्स द्वारा फ्लाई पास्ट भी किया गया। आज पूरे देश ने 1965 युद्ध के हीरो मार्शल अर्जन सिंह को नम आंखों से विदाई दी। धार्मिक रीति-रिवाजों के बाद अर्जन सिंह के बेटे अरविंद सिंह ने उन्हें मुखाग्नि दी।

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने बरार स्क्वेयर पहुंचकर मार्शल अर्जन को श्रद्धांजलि दी। मार्शल अर्जन के सम्मान में आज सभी सरकारी इमारतों में राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका दिया गया है।अर्जन सिंह का शनिवार को सेना के रिचर्स ऐंड रेफरल अस्पताल में निधन हो गया था। रविवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, पीएम नरेंद्र मोदी ने उनके अंतिम दर्शन किए थे और श्रद्धांजलि अर्पित की थी।

मार्शल अर्जन सिंह को अंतिम विदाई देने के लिए एयरफोर्स के कई पूर्व और वर्तमान उच्च अधिकारी पहुंचे। इनके अलावा रक्षा केंद्रीय मंत्री निर्मला सितारमन, बीजेपी वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण अडवाणी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी मार्शल अर्जन सिंह को श्रृद्धांजलि देने पहुंचे। भारतीय वायुसेना ने मार्शल अर्जन सिंह के सम्मान में सुखोई फाइटर जेट और एमआई-17वी5 के जरिए फ्लाइ पास्ट किया। मिलिट्री बैंड ने फेयरवेल धुन बजाकर मार्शल अर्जन सिंह को विदाई दी। मार्शल अर्जन सिंह को विदाई देने पहुंचे पूर्व एयर चीफ मार्शल अनिल यशवंत टिपनीस ने कहा कि अर्जन सिंह ने वह एक राष्ट्रीय हीरो थे। तीनों सेनाओं के प्रमुखों सहित हजारों की संख्या में लोगों ने नम आंखों से मार्शल अर्जन सिंह को अंतिम विदाई दी।

SHARE