गुजरात का चुनावी शोर थमा, अब संसद में दिखेगा सियासी संग्राम, केंद्र ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

गुजरात का चुनावी शोर थमा, अब संसद में दिखेगा सियासी संग्राम, केंद्र ने बुलाई सर्वदलीय बैठक
गुजरात चुनाव का प्रचार थमने के बाद राजनीतिक दलों ने अब संसद सत्र की रणनीति बनानी शुरू कर दी है। गुजरात चुनाव में प्रचार का स्तर बेहद नीचे जाने के बाद उम्मीद जताई जा रही है कि संसद के सत्र में भी विपक्ष की ओर से सरकार पर हमले तेज होंगे। इसे भांपते हुए सरकार ने सत्र की शुरूआत से एक दिन पूर्व सर्वदलीय बैठक बुलाई है।
विपक्ष खासतौर से कांग्रेस पार्टी ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के पुत्र जय शाह के मामले और राफेल डील के मुद्दे को संसद में उठाने का ऐलान पहले ही कर रखा है। तो सत्र की देरी को लेकर भी विपक्ष सरकार को कटघरे में घेरने की तैयारी में है। संसद के शीतकालीन सत्र की शुरूआत शुक्रवार 15 दिसंबर को होगी।

गुरुवार को सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक
विपक्ष के मंसूबों को भांपते हुए सरकार ने भी अपनी तैयारी शुरू कर दी है। संसदीय कार्य मंत्रालय ने जानकारी दी है कि संसद सत्र की पूर्व संध्या पर गुरूवार शाम को सर्वदलीय बैठक बुलाई गई है। इसमें संसद की रणनीति और मुद्दों को लेकर राजनैतिक दलों से चर्चा की जाएगी। गुरुवार शाम को संसद भवन के लाइब्रेरी परिसर में यह बैठक बुलाई गई है। संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने राजनैतिक दलों के नेताओं को इसकी सूचना दे दी है।

SHARE