पुलवामा मुठभेड़ में 4 जवान शहीद, जैश-ए-मोहम्मद ने ली जिम्मेदारी

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिला पुलिस लाइन परफिदायीन हमला हुआ है। जिसमें स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) के एक जवान, सीआरपीएफ के 2 जवान और जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक कांस्टेबल के शहीद और 4 जवानों के घायल होने की खबर है। हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली है। घटना शनिवार सुबह हुई है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक हमले से पहले दो से तीन संदिग्ध आतंकियों को पुलिस लाइन इलाके में देखा गया, जिसके बाद उन्हें खत्म करने के लिए सीआरपीएफ के जवानों ने गोलीबारी की है।

गोलीबारी में 1 SOG जवान शहीद और 6 सीआरपीएफ जवान जख्मी हुए हैं। खबर है कि मुठभेड़ में एक एसओजी जवान शहीद सहित छह जवान घायल हुए हैं। मौके पर से 36 परिवारों से घर खाली करवाया गया है।मुठभेड़ के बाद पुलवामा में इंटरनेट सेवा बाधित हो गयी है।

पुलवामा के जिला पुलिस लाइन में जारी मुठभेड़ के दौरान ​एक सीआरपीएफ जवान भी शहीद हो गया है। सुरक्षा कर्मियों की मौत की संख्या 3 तक पहुंच गई है। एनकाउंटर अभी भी जारी है।

जीओसी 15 कोर के लेफ्टिनेंट जनरल जेएस संधू ने बताया कि, 2 आतंकवादियों ने डीपीएल पुलवामा में फैमली क्वार्टर में एंट्री कर ली है। मुठभेड़ के दौरान जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक कांस्टेबल और दो सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए हैं। उन्होंने बताया कि यह एक फिदायीन हमला है। हमने ब्लॉक से फैमली को बाहर निकाल लिया है। सुरक्षा दल और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ अभी भी जारी है। हम बंधक की स्थिति में नहीं हैं।

SHARE